ट्रैवल हिस्ट्री छुपाने वाले पर मुकदमा, 3 इलाके कंटेनमेंट जोन बनाए गए

Share this:

जमशेदपुर, 15 जून : आज जिला प्रशासन ने बागबेड़ा थाना इलाके के सीपी टोला और प्रधान टोला को कंटेनमेंट जोन बना दिया है। इसके साथ ही गोविंदपुर थाना इलाके के कैलाश नगर को भी कंटेनमेंट जोन बनाकर सील कर दिया गया है। इन इलाकों को बांस से घेरकर सील किया गया है। जिससे इलाके के लोग बाहर न जा सकें तथा बाहर के लोग इन इलाकों में नहीं आ सकें। तीनों इलाकों में सैनिटाइजर का छिड़काव किया जा रहा है। आवश्यक खाद्य सामग्रियों की आपूर्ति के लिए प्रशासन द्वारा व्यवस्था की गई है।ऐसा बाहर से आने वाले दो व्यक्तियों के चलते हुए जो दूसरे शहर से आने के बाद सीधे अपने घर चले गए।बागबेड़ा निवासी व्यक्ति बाहर से आकर अस्पताल जाने के बदले अपने घर गया और सीपी टोला तथा प्रधान टोला के लोगों से मिला। इसके बाद वह जांच कराने गया। कल रात उसकी स्वाब टेस्ट रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद उसे अस्पताल में दाखिल किया गया तथा आज उसके कांटेक्ट का पता लगाया गया। साथ ही सीपी तोला और प्रधान टोला को सील कर दिया गया। गोविंदपुर कैलाश नगर के एक बुजुर्ग ने तो अपनी ट्रैवल हिस्ट्री छुपा कर अपराध कर दिया। वे 4 दिन पहले लखनऊ से जमशेदपुर आए थे। उन्होंने यह बात छुपाई। अचानक छाती में दर्द होने के कारण वे टाटा मेन हॉस्पिटल में दाखिल हुएयहां भी उन्होंने तथा उनके पुत्र  ने ट्रैवल हिस्ट्री छुपाई। जिसके चलते उन्हें सामान्य वार्ड में दाखिल कर उनका इलाज शुरू किया गया। इस बुजुर्ग के चलते टाटा मेन हॉस्पिटल की एक नर्स में संक्रमण फैल गया। नर्स की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आने पर बुजुर्ग से पूछताछ की गई तो उन्होंने अपनी ट्रैवल हिस्ट्री की बात स्वीकार की। इस अपराध के चलते उपायुक्त पूर्वी सिंहभूम में उन पर डीसी एक्ट के तहत अपराधिक मामला दर्ज कराया। इसी बुजुर्ग मरीज के कारण गोविंदपुर के कैलाश नगर को आज कंटेनमेंट जोन बनाया गया। उपायुक्त रवि शंकर शुक्ला ने अपील की है कि दूसरे शहरों से आने वाले व्यक्ति अपनी ट्रैवल हिस्ट्री किसी भी कीमत पर न छुपाएं। वे फौरन जिला प्रशासन या पुलिस से संपर्क करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!