पूर्व मुख्यमंत्री रघुवर दास द्वारा सोशल डिस्टेंसिंग का उल्लंघन

Share this:

जमशेदपुर, 11 जून : झारखंड में कोरोनावायरस के रोगियों की संख्या तेजी से बढ़ रही है। दूसरी तरफ आम लोगों की तरह ही जनप्रतिनिधि, मंत्री वगैरह भी सोशल डिस्टेंसिंग का उल्लंघन कर रहे हैं। यह बात अलग है कि बड़ी हस्ती होने के चलते प्रशासन उन पर मुकदमा दर्ज नहीं करता। कल आपने ‘आज़ाद न्यूज़’ में झारखंड के मौजूदा मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन द्वारा सोशल डिस्टेंसिंग नहीं बनाए रखने का समाचार पढ़ा था। इसी तरह झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री रघुवर दास द्वारा सोशल डिस्टेंसिंग नहीं बनाए रखने की घटना भी सामने आई है। मालूम हो कि मोदी सरकार की उपलब्धियों को घर-घर द्वार-द्वार पहुंचाने के लिए पूर्व मुख्यमंत्री रघुवर दास खुद रांची में व्यक्तिगत संपर्क के लिए निकले। इस अभियान में उनके साथ धुर्वा मंडल रांची के कार्यकर्ता शामिल थे। रघुवर दास ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सरकार की उपलब्धियों की जानकारी लोगों को दी।चौंकाने वाली बात यह है कि इस अवसर पर रघुवर दास ने यह भी कहा कि कोरोना वायरस के संक्रमण से बचने के लिए सामाजिक दूरी का ख्याल रखते हुए घर-घर जाकर मोदी सरकार की उपलब्धियां गिनाए। इस कार्यक्रम में कुलवंत सिंह बंटी, विजय जायसवाल, धुर्वा मंडल के धनंजय सिंह वगैरह उपस्थित थे, पर किसी ने भी सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं किया।  जनता सवाल कर रही है कि वे सोशल डिस्टेंसिंग की शिक्षा दे रहे हैं पर खुद ही सोशल डिस्टेंसिंग का उल्लंघन कर रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!