सरायकेला पुलिस की बड़ी सफलता, नशीले तस्कर गिरोह की कमर तोड़ी

Share this:

जमशेदपुर, 15 जून : सरायकेला-खरसावां पुलिस ने बीती रात भारी मात्रा में अफीम, पोस्ता का डोडा, डोडा का चूर्ण और विदेशी शराब जब्त की है। मालूम हो अफीम और पोस्ता का डोडा नक्सल प्रभावित इलाके से लाया जाता है। नक्सली दुर्गम इलाकों में किसानों से अफीम और पोस्ता की खेती कराते हैं। यह उनकी कमाई का महत्वपूर्ण जरिया है। सरायकेला-खरसावां पुलिस ने नशीले पदार्थ के अंतरराज्यीय गिरोह का भंडाफोड़ कर गिरोह के सरगना की पहचान कर ली है। पुलिस ने गिरोह में काम करने वाले कुल 7 लोगों को गिरफ्तार किया है। इसे सरायकेला-खरसावां पुलिस के बड़ी सफलता बताया जा रहा है।सूत्रों के मुताबिक सरायकेला-खरसावां के एसपी मोहम्मद अर्शी को मिली गुप्त सूचना के आधार पर 14-15 जून की रात खरसावां थाना क्षेत्र में बड़े पैमाने पर छापामारी की गई। छापामारी दल का नेतृत्व सरायकेला के अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी कर रहे थे। पूरी घटना की जानकारी देते हुए आज सरायकेला के एसपी ने प्रेस को बताया कि छापामारी टीम ने पदमपुर गांव में छापामारी की। यहां से एक पिकअप वैन पर प्लास्टिक के बोरों में अफीम डोडा और डोडा पाउडर लोड किया जा रहा था। इस कार्य में लगे हुए 7 लोगों को रंगे हाथों गिरफ्तार किया गया। वाहनों पर लोड 15 बोरे अवैध अफीम, डोडा एवं डोडा का चूर्ण जप्त किया गया। गिरोह के मुख्य सरगना तथा कुछ अन्य लोग भागने में सफल रहे। पकड़े गए व्यक्तियों से पूछताछ करने पर उन लोगों ने स्वीकार किया कि उनके घर में भी बड़ी मात्रा में तस्करी के लिए डोडा रखा है। पुलिस ने तत्काल मैजिस्ट्रेट की मौजूदगी में सबके घर की तलाशी ली। इस क्रम में डोडा, डोडा पीसने की मशीन एवं डोडा का चूर्ण बरामद किया गया। इन लोगों ने अफीम और डोडा का अवैध व्यापार किए जाने की बात कबूल की तथा यह भी बताया कि वे अवैध विदेशी शराब की तस्करी भी करते हैं। विदेशी शराब की बिक्री सरायकेला-खरसावां जिले से देश के अन्य जिलों में की जाती है। एसपी ने बताया कि इस गिरोह का सरगना पदमपुर खरसावां का निवासी लोकेश केसरी है। एसपी ने कहा कि इस अवैध व्यापार में नक्सलियों की संलिप्तता के बिंदु पर भी जांच की जा रही है। प्रथम दृष्टया यह बात सामने आई है कि इस गिरोह का संपर्क देश के दूसरे राज्यों के अन्य अफीम तस्करों से है। इसकी भी जांच पुलिस कर रही है। पुलिस ने पदमपुर गांव से 57 बोरा डोडा तथा डोडा चूरा बरामद किया। इसका वजन 750 किलो ग्राम है। यहां से किंग गोल्ड  लिखी हुई अवैध विदेशी शराब के 52 कार्टून, जिनमें 624 बोतल शराब थी जब्त की गई। पुलिस ने सफेद रंग की एक जाइलो वाहन, दो बोलेरो पिकअप बैन, 4 बाइक, 6 मोबाइल, डोडा पीसने की दो मशीन, वजन करने के दो इलेक्ट्रॉनिक  तराजू, प्लास्टिक के बोरे में पोस्ता 10-10 किलोग्राम के दो बोरे जब्त किए। इस संदर्भ में खरसावां थाना में उत्पाद अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया गया। गिरफ्तार व्यक्तियों के नाम उग्रसेन मंडल उर्फ पोकलो, अशोक लोहार, विकास केसरी, मानस मंडल, राज कुमार केसरी, राज बांदिया उर्फ लादेन, सपन कुमार साहू उर्फ़ झंटू बताए जाते हैं। एसपी मोहम्मद अर्शी ने छापामारी टीम में शामिल सभी पुलिस पदाधिकारियों एवं पुलिस कर्मियों को पुरस्कार स्वरूप 10000 रुपये दिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!