280 कोरोना मरीजों में सिर्फ 20 को दवा दी गई, बाकी वैसे ही ठीक हो गए

Share this:

जमशेदपुर, 27 जून :  कोरोना संक्रमित लोगों का इलाज एमजीएमसीएच के साथ ही टाटा मेन हॉस्पिटल में भी हो रहा है। यहां बाकायदा कोरोना वार्ड बनाया गया है। अब तक टाटा मेन हॉस्पिटल में पूर्वी सिंहभूम जिले के 260 कोरोना मरीजों को एडमिट किया गया। इनमें से 168 मरीज कोरोना नेगेटिव हो गए और उन्हें डिस्चार्ज कर दिया गया। टाटा मेन हॉस्पिटल में सरायकेला-खरसावां जिले के 20 कोरोना मरीजों को दाखिल किया गया। इनमें से 18 मरीज चंगे होकर डिस्चार्ज हो गए। दोनों जिले के कुल 280 मरीजों में से 244 लोगों की ट्रैवल हिस्ट्री बताई जाती है। जबकि 30 लोग बिना ट्रेवल हिस्ट्री के ही कोरोना के मरीज बन गए। सूत्रों के मुताबिक 6 लोग ऐसे भी हैं जो किसी भी पॉजिटिव मरीज के संपर्क में नहीं आए तथा उन्होंने कोई यात्रा भी नहीं की। प्रशासन इनके कोरोना संक्रमित होने की जांच कर रहा है। टाटा मेन हॉस्पिटल सूत्रों के मुताबिक कुल 280 में से सिर्फ 20 मरीजों का इलाज उन्हें दवा खिलाकर किया गया। इनमें से 10 लोगों को ऑक्सीजन पर रखने की जरूरत पड़ी। 5 लोगों को नन इंटेंसिव वेंटिलेशन सपोर्ट की जरूरत पड़ी। इंटेंसिव वेंटीलेशन की जरूरत किसी रोगी को नहीं पड़ी। 260 कोरोना पॉजिटिव मरीज बिना किसी दवा के चंगे हो गए। सूत्रों ने यह भी बताया कि टाटा मेन हॉस्पिटल में टेस्ट की सुविधा शुरू होने के बाद 7082 टेस्ट हो चुके हैं। इनमें 444 टेस्ट पॉजिटिव पाए गए हैं। 24 जून को 307 टेस्ट कर रिकॉर्ड बनाया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!