काश बाबा रामदेव जैसे सभी बाबा होते

Share this:

हरिद्वार सिंह

बाबा रामदेव का मजाक उड़ाने वाले लोगों  के लिए इस पोस्ट को पढ़ना बेहद आवश्यक है। देश के सारे कोचिंग इंस्टीट्यूट प्राईवेट इंग्लिश मीडियम स्कूल हैरान हो गये हैं बाबा रामदेव के आचार्य कुलम स्कूल से। CBSE कक्षा 10 आचार्य कुलम के 75  में से 30 बच्चे 90% से ज्यादा मार्क्स ला कर देश के बाकी स्कूलों के लिए रिसर्च का विषय बन गये हैं। एक बच्चा तो देश में तीसरे स्थान पर आ गया दसवीं सीबीएसई में। बाबा रामदेव अपने आचार्य कुलम में वो बच्चे तैयार कर रहे हैं जो आने वाले समय में आईएएस, आईपीएल, जज, साइंटिस्ट बन के भारत का नेतृत्व करेंगे। और बाबा रामदेव विश्व की सबसे बड़ी यूनिवर्सिटी भी खोलने जा रहे हैं। ताकि वहाँ से निकले बच्चे देशभक्त और राष्ट्वादी बन कर देश का नेतृत्व करेंगे, न कि जेएनयू जैसी जगह से कोई कन्हैया, उमर खालिद निकलेंगे।बाबा रामदेव अपने जैसे एक हजार युवा सन्यासी भी तैयार कर रहे हैं, जो भारत के अलग अलग जगह में जा कर वेद और भारतीयता की अलख जगायेंगे।

देश में तीसरा स्थान पाने वाले इस छात्र के दोस्त कल तक इसको चिढ़ाते हुए कहते थे कि क्यों बाबा लोग के स्कूल में पढ़ कर अपना जीवन बर्बाद कर रहा है, वहांं तू गंवार बन जायेगा। कल इसी दिव्यांशु आर्या ने पूरे भारत में तीसरा स्थान व 99.4% नंबर लाकर उन सभी लोगोंं का मुह बंद कर दिया जो गुरुकुल, संस्कृत भाषा, बाबा लोगों का मजाक उड़ाते थे। और जो योग तथा स्वदेशी सामान से बाबा ने किया है वो भारत में अभी तक कोई न कर पाया।बधाई दिव्यांशु , भारत का नाम रोशन करो। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!