कोरोना पॉजिटिव के संपर्क में आने वालों की जांच से इनकार, सर्विलेंस विभाग की घोर लापरवाही, आज दो की मौत

Share this:

कविकुमार

जमशेदपुर, 24 जुलाई : जमशेदपुर में कोरोना संक्रमण तेजी से बढ़ रहा है। बिना ट्रेवल हिस्ट्री के लोग कोरोना संक्रमण के शिकार हो रहे हैं। संक्रमण से मौत की संख्या भी बढ़ रही है। आज टाटा मेन हॉस्पिटल में दो कोरोना संक्रमित लोगों की मौत दोपहर तक हो गई। कोरोना संक्रमण के बढ़नेेे के साथ पूर्वी सिंहभूम जिले के पुलिस प्रशासन के बड़े पदाधिकारी दिन रात मेहनत कर रहे हैं। दूसरी ओर सर्विलेंस विभाग की लापरवाही के चलते कोरोना पॉजिटिव मरीज के परिवार और कांटेक्ट की पहचान में जरूरत से ज्यादा देर की जा रही है। यह कहा जा सकता है कि सर्विलेंस विभाग के पास काम करने वाले अधिकारी व कर्मचारी कम हैं। परंतु ऐसेे मामले भी सामने आए हैं जब कोरोना पॉजिटिव के संपर्क में आने वाले व्यक्ति खुद सर्विलेंस कार्यालय में जाकर पॉजिटिव मरीज के संपर्क में आने की बात बता कर अपना टेस्ट कराना चाहते हैं। पर उनको भी सर्विलेंस विभाग के अधिकारी टेस्ट कराना जरूरी नहीं कह कर वापस भगा देते हैं। जबकि पहले सर्विलेंस विभाग के पदाधिकारी कोरोना पॉजिटिव की कांटेक्ट हिस्ट्री खोजने में काफी समय और मेहनत लगाते थे।सूत्रों के मुताबिक रिफ्यूजी कॉलोनी के एक किराना और दूध दुकानदार कोरोनावायरस पॉजिटिव पाए गए। उनका इलाज टाटा मेन हॉस्पिटल के आईसीयू में चल रहा है। उनकी दुकान से रोजाना सामान लेने वाले दो लोग आज करीब 12:30 बजे दोपहर को एक नंबर ह्यूम पाइप रोड साकची स्थित सर्विलेंस कार्यालय पहुंचे और पूरी बात बताते हुए अपनी जांच करानी चाही। परंतु कार्यालय के बरामदे में बैठे व्यक्ति ने उन्हें डॉक्टर अरविंद कुमार लाल से नहीं मिलने दिया और कोरोना जांच को गैर जरूरी बताते हुए उन दोनों को वापस घर भेज दिया। जबकि एक युवक के सर में दर्द और हल्का बुखार तीन-चार दिनों पहले था। यह सब जानते हैं कि आधे से अधिक कोरोना पॉजिटिव लोगों में लक्षण दिखाई नहीं देते। 
जानकारों के मुताबिक कोरोना पॉजिटिव दुकानदार की रिपोर्ट कल आई थी। उसके परिवार में उसकी पत्नी, दो बेटियां और बुजुर्ग माता हैं। 2 दिन बीत जाने के बाद भी सर्विलेंस टीम ने कोरोना पॉजिटिव के परिवार के सदस्यों का नमूना जांच के लिए नहीं लिया। सर्विलेंस विभाग की लापरवाही के और कई मामले भी हैं। जिन्हें हम आगे प्रकाशित करेंगे जिससे यह काफी महत्वपूर्ण विभाग सक्रिय हो और कोरोनावायरस के प्रसार पर रोक लग सके।

ReplyForward

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!