कोविड-19 जांच कराने के लिए डॉक्टरों की पर्ची जरूरी नहीं

Share this:

जमशेदपुर, 9 जुलाई : शक के आधार पर अपना कोविड-19 टेस्ट कराने वाले लोगों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ता था। उन्हें कोविड-19 का टेस्ट कराने से पहले सरकारी चिकित्सक की पर्ची लेनी पड़ती थी। इसके लिए उन्हें घंटों सरकारी अस्पताल में लाइन लगानी पड़ती थी। टेस्ट कराने वालों की अधिक संख्या होने के कारण यहां सोशल डिस्टेंस का उल्लंघन होता था तथा जो बीमार नहीं हैैं उनके भी बीमार होने की संभावना बनी रहती थी।सरकार ने कई गैर सरकारी जांच केंद्रों को कोविड-19 जांच की अनुमति पहले से ही दे रखी है, परंतु वे भी बिना सरकारी डॉक्टर की पुर्जी के जांच नहीं करते थे। जिसके चलते आम जनता काफी परेशानी झेलती थी। परंतु आज झारखंड राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के अभियान निदेशक ने यह आदेश जारी किया है कि कोविड-19 टेस्ट कराने के लिए सरकारी डॉक्टरों की पुर्जी जरूरी नहीं है। इससे झारखंड की जनता को काफी राहत मिली है। अभियान निदेशक में अपनी प्रेस विज्ञप्ति में लिखा है कि स्वास्थ्य सचिव प्रीति सुदान और डीजी आईसीएमआर डॉ बलराम भार्गव ने कोविड-19 के परीक्षण से जुड़ी सभी समस्याओं को दूर करने के उद्देश्य से राज्य और संघ शासित प्रदेशों से परीक्षण को सुगम बनाने और परीक्षण बढ़ाने के लिए तत्काल कदम उठाने का अनुरोध किया है। पत्र के माध्यम से जानकारी दी गई कि वायरस का जल्दी पता लगाने और महामारी पर रोकथाम की रणनीति के लिहाज से परीक्षण, निगरानी, उपचार (टेस्ट, ट्रेक, ट्रीट) काफी अहम है। कुछ राज्य और केंद्र शासित प्रदेशों ने कोविड-19 टेस्ट के लिए सरकारी डॉक्टरों की लिखित पर्ची को अनिवार्य किया है। जबकि सरकारी स्वास्थ्य केंद्रों में बढ़ते हुए केस को देखते हुए टेस्ट में बेवजह देरी से बचना चाहिए और आईसीएमआर के दिशा निर्देशों का पालन करते हुए निजी चिकित्सकों सहित सभी सक्षम चिकित्सकों को कोविड-19 टेस्ट की जांच की सलाह देने की अनुमति दी जानी चाहिए। भारत सरकार तथा आईसीएमआर द्वारा टेस्ट, ट्रेक, ट्रीट नीति के आलोक में झारखंड सरकार के सापेक्ष यह सार्वजनिक किया जाता है कि कोविड-19 के लिए किसी तरह के चिकित्सक पर्ची की आवश्यकता नहीं है। कोई भी व्यक्ति जरूरत के अनुसार चिन्हित नमूना संग्रह केंद्र में अपनी जांच करवा सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!