जुस्को ने सभी ब्लैक स्पॉट में सुधार नहीं किया, घातक सड़क दुर्घटना की संभावना

Share this:

जमशेदपुर, 3 जुलाई : आज जिला सड़क सुरक्षा समिति की बैठक जमशेदपुर के सांसद-सह-जिला सड़क सुरक्षा समिति के अध्यक्ष विद्युत वरण महतो एवं रविन्द्र तिवारी, सदस्य राष्ट्रीय सड़क सुरक्षा परिषद (सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय) की संयुक्त अध्यक्षता में आयोजित की गई। बैठक में जिले में सड़क सुरक्षा एवं निर्माण कार्य से संबंधित स्थिति की समीक्षा की गई। जिला परिवहन पदाधिकारी दिनेश रंजन द्वारा बताया गया कि फिलहाल जमशेदपुर में 19 ब्लैक स्पॉट चिन्हित किए गए हैं, जिनसे जुड़ी समस्याओं का निष्पादन किया जाना है। इस बाबत जुस्को के प्रतिनिधियों ने बताया कि पूर्व में चिन्हित 17 ब्लैक स्पॉट में से 13 पर आवश्यकतानुसार कार्य किए जा चुके हैं। शेष 4 पर कार्य जारी है। बैठक में किस ब्लैक स्पॉट की क्या समस्या है तथा इसका क्या समाधान किया जाना है, इस पर विमर्श किया गय। बैठक में डीएसपी ट्रैफिक शिवेंद्र ठाकुर, मानगो नगर निगम के सिटी मैनेजर, सड़क सुरक्षा समिति के अन्य सदस्य उपस्थित थे। प्रेस से बातचीत के क्रम में  रविन्द्र तिवारी ने बताया कि एनएच-33 में 2.5 किमी के क्षेत्र में जमीन अधिग्रहण से जुड़ी समस्या पर आज जमशेदपुर सांसद, जिला परिवहन पदाधिकारी, संवेदक के साथ स्थलीय निरीक्षण किया गया एवं इस संबंध में क्या कदम उठाए जाने हैं इसपर विमर्श किया गया। सड़क सुरक्षा को लेकर सांसद जमशेदपुर द्वारा वीमेंस कॉलेज बिष्टुपुर के पास के गोलंबर को लेकर भी आवश्यक कार्रवाई हेतु सुझाव दिए गए। सदस्य, राष्ट्रीय सड़क सुरक्षा परिषद ने कहा कि जमशेदपुर शहर के तीनों नगर निकाय ये सुनिश्चित करें कि सड़कों पर गाड़ी पार्क न हो। साथ ही वाहन चेकिंग को लेकर उन्होंने कहा कि ट्रैफिक पुलिसकर्मी या पदाधिकारी ये सुनिश्चित करें कि कोई भी वाहन सवार बिना हेलमेट या सीट बेल्ट के वाहन न चलाएं।    

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!