मुख्यमंत्री, प्रधानमंत्री की बातें नहीं मान रहे विधायक-सांसद

Share this:
10 जून को तो विधायक मंगल कालिंदी ने हद ही कर दी

कविकुमार
जमशेदपुर, 1 जुलाई: झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन तथा भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इस बात पर एकमत हैं कि किसी भी हालत में सोशल डिस्टेंसिंग नहीं तोड़ी जानी चाहिए तथा चेहरे में मास्क जरूर लगाना चाहिए। परंतु चैंकाने वाली बात यह है कि सत्ताधारी दल झारखंड मुक्ति मोर्चा और कांग्रेस के विधायक तथा विपक्षी दल भारतीय जनता पार्टी के जनप्रतिनिधि भी खुलेआम मुख्यमंत्री और प्रधानमंत्री के आदेशों का उल्लंघन कर रहे हैं।
आज हम जुगसलाई के विधायक मंगल कालिंदी द्वारा सोशल डिस्टेंस का उल्लंघन करने के कुछ उदाहरण प्रकाशित कर रहे हैं। इससे पहले ‘आज़ाद न्यूज़’ में पोटका के विधायक संजीव सरदार और जमशेदपुर पश्चिमी के विधायक सह झारखंड सरकार के स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता द्वारा सोशल डिस्टेंसिंग के उल्लंघन के समाचार प्रकाशित किए जा चुके हैं। आगे भी हम अन्य विधायकों और जन प्रतिनिधियों द्वारा सोशल डिस्टेंसिंग के उल्लंघन के समाचार प्रकाशित करते रहेंगे। जिससे जमशेदपुर में कोरोनावायरस महामारी का रूप न ले सकें।
मारवाड़ी युवा मंच स्टील सिटी सुरभि शाखा द्वारा 29 जून को साकची बाजार स्थित शिव मंदिर परिसर हाॅल में दो गरीब जोड़ों का विवाह कराया गया। इस अवसर पर जुगसलाई के विधायक

मंगल कालिंदी ने एक जोड़े का कन्यादान किया। यह आयोजन सुबह 11 बजे से दोपहर 2 बजे तक चला। यहाँ मारवाड़ी समाज के कृष्णा अग्रवाल, संतोष अग्रवाल, निर्मल काबरा, अशोक भालोटिया, विश्वनाथ महेश्वरी, राजकुमार चंदुका, मनीषा संघी, कविता अग्रवाल, शालिनी अग्रवाल, उषा चैधरी, सुभाष शाह, उमेश शाह, नरेश मोदी, बजरंगलाल अग्रवाल, सांवरमल अग्रवाल, अजय चेतानी, अशोक मोदी, अरुण गुप्ता, विष्णु गोयल, प्रशांत अग्रवाल आदि मौजूद थे। यह सामाजिक कार्य सराहनीय है परंतु कोरोनावायरस संक्रमण को देखते हुए इस विवाह के दौरान सोशल डिस्टेंसिंग का घोर उल्लंघन किया गया। इसके लिए झारखंड मुक्ति मोर्चा के विधायक मंगल कालिंदी एवं मारवाड़ी समाज के लोगों का सराहनीय कार्य निंदनीय बन गया।

23 जून को क्वारेंटाइन की अवधि पूरी करने वाले प्रवासी मज़दूरों के बीच झारखंड सरकार की ओर से दी गई खाद्य सामग्री का वितरण विधायक मंगल कालिंदी ने प्रखंड कार्यालय परिसर में किया। इस मौके पर प्रखंड विकास पदाधिकारी राकेश कुमार गोप, प्रखंड आपूर्ति पदाधिकारी प्रदीप कुमार साह, झारखंड मुक्ति मोर्चा के प्रखंड अध्यक्ष श्यामापदा महतो वगैरह मौजूद थे। क्वारेंटाइन की अवधि पूरी करने वाले प्रवासियों के बीच सोशल डिस्टेंसिंग रखी गई, परंतु उनके पीछे खड़े विधायक, सरकारी पदाधिकारी और नेताओं ने सोशल डिस्टेंसिंग का घोर उल्लंघन किया।

14 जून को मारवाड़ी युवा मंच स्टील सिटी सुरभि शाखा द्वारा गोविंदपुर के मध्यमा विद्यालय में वाटर कूलर लगाया गया। वाटर कूलर का उद्घाटन विधायक मंगल कालिंदी ने किया। उद्घाटन के दौरान सोशल डिस्टेंसिंग का उल्लंघन किया गया। इस मौके पर सुरभि शाखा की कविता अग्रवाल, मनीषा संघी, उषा चैधरी, सुरेश संथालिया, मोहित शाह आदि मौजूद थे।
10 जून को तो विधायक मंगल कालिंदी ने हद ही कर दी। उन्होंने बोड़ाम प्रखंड के पोखोरिया गांव में ग्रामीणों की समस्या सुनने हेतु एक बैठक की। इस बैठक में सोशल डिस्टेंसिंग की बुरी तरह धज्जियां उड़ाई गई। बैठक में जिला पार्षद स्वपन कुमार महतो भी मौजूद थे।

7 जून को तुपुडांग गांव में विधायक मंगल कालिंदी ने ग्रामीणों को खिचड़ी का वितरण किया। यहां झारखंड मुक्ति मोर्चा के प्रखंड सचिव मिथुन चक्रवर्ती भी शामिल थे। इस दौरान सोशल डिस्टेंसिंग का उल्लंघन कर खिचड़ी बांटी गई।

30 जून को झारखंड मुक्ति मोर्चा की पूर्व सांसद सुमन महतो ने बिरसानगर गुड़िया मैदान में हूल दिवस के अवसर पर सिधो कान्हू की प्रतिमा में माल्यार्पण किया इस अवसर पर सोशल डिस्टेंसिंग का उल्लंघन किया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!