मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन और डॉक्टरों ने तोड़ी सोशल डिस्टेंस

Share this:

कवि कुमार

जमशेदपुर, 18 जुलाई : झारखंड के मुख्यमंत्री हाल ही में क्वॉरेंटाइन से बाहर आए हैं। सरकार के मंत्री मिथिलेश ठाकुर  के कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के बाद  शक के आधार पर मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन भी क्वॉरेंटाइन में चले गए थे। सौभाग्य से मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन कोरोनावायरस से बच गए। उनकी जांच रिपोर्ट नेगेटिव आई। इस घटना के बाद से मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन को जरूरत से ज्यादा सावधान रहना चाहिए था, परंतु ऐसा नहीं लग रहा है कि वे सावधान हैं। न ही मुख्यमंत्री के सुरक्षा गार्ड सोशल डिस्टेंस बरकरार रखने में सक्रियता दिखा रहे हैं। मालूम हो झारखंड के अनेक डॉक्टर कोरोनावायरस पॉजिटिव पाए गए हैं। डॉक्टर हमेशा मरीजों के संपर्क में रहते हैं।गलती से वे कोरोनावायरस के मरीज का इलाज भी साधारण मरीज समझ कर कर देते हैं। जमशेदपुर में आज ही ऐसा पता चला। यहां इंडियन मेडिकल एसोसिएशन के अध्यक्ष डॉ उमेश खान ने एक साधारण मरीज का इलाज किया। बाद में पता चला कि वह कोरोना पॉजिटिव था। तब से डॉ उमेश खान क्वॉरेंटाइन में चले गए हैं और जहां उन्होंने मरीज देखा था वह लाइफ लाइन नर्सिंग होम सील कर दिया गया है।ऐसे कई मामले आ चुके हैं। इसके बाद भी आज मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने अनेक डॉक्टरों से मुलाकात की। इस दौरान सोशल डिस्टेंस का पूरी तरह उल्लंघन किया गया। मालूम हो सरकार के मुख्य सचिव के आदेश के मुताबिक सोशल डिस्टेंस के रूप में 2 मीटर की दूरी तय की गई है। जबकि आज मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन और अन्य डॉक्टर आपस में 2 फुट की दूरी भी बना कर नहीं रख पाए।हेमन्त सोरेन से आज कांके रोड रांची स्थित मुख्यमंत्री आवास में आईएमए झारखंड रांची, एएचपीआई झारखंड एवं झासा के संयुक्त प्रतिनिधिमंडल ने मुलाकात की। प्रतिनिधिमंडल ने मुख्यमंत्री को एक ज्ञापन भी सौंपा। प्रतिनिधिमंडल ने मुख्यमंत्री के समक्ष कोविड तथा नन कोविड मरीजों के अलग-अलग अस्पतालों में इलाज सुनिश्चित किए जाने के संबंध में चर्चा की एवं ज्ञापन के माध्यम से कुछ सुझाव भी रखे।  मुख्यमंत्री से मिलने वाले डॉक्टरों में  आईएमए झारखण्ड के सचिव डॉ प्रदीप सिंह, सचिव एएचपीआई डॉ राजेश कुमार, सचिव आईएमए रांची डॉक्टर शंभू प्रसाद सिंह, चेयरमैन एचबीआई डॉ आरएस दास एवं पूर्व सचिव आईएमए रांची डॉ नितेश प्रिया उपस्थित थे।

ReplyForward

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!