हल्दीपोखर मुस्लिम बस्ती के लोगों ने सरकारी काम में बाधा डाल राशन कार्ड का भौतिक सत्यापन रोका

Share this:
जमशेदपुर, 8 जुलाई : आज पोटका में एडीएम एनके लाल के निर्देश पर हल्दीपोखर में जन वितरण प्रणाली के दूकानदार असगर अली अंसारी की दुकान के राशन कार्ड का भौतिक सत्यापन का सैंकड़ों ग्रामीणों ने विरोध किया। ग्रामीण भौतिक सत्यापन करने पहुंची टीम में शामिल पंचायत सचिव केके मंडल, शिक्षक रविंद्र सरदार सहित अन्य को बैरंग लौटा दिया। विरोध कर रहे ग्रामीणों का कहना है कि प्रखंड के एक-दो जविप्र दूकानदार के क्षेत्र के लाभुकों के राशनकार्ड का भौतिक सत्यापन षड़यंत्र के तहत किया जा रहा है। हम सभी की मांग है कि प्रखंड के सभी 133 जविप्र दूकानों के राशन कार्ड की भौतिक जांच की जाय। जांच के दौरान मृत और डबल राशन कार्ड को रद्द किया जाए। साथ ही छुटे लोगों का नाम राशन कार्ड में जोड़ा जाए। सभी दूकानों के राशन कार्ड का भौतिक सत्यापन एक साथ होने पर ही यहां राशनकार्ड का भौतिक सत्यापन करने दिया जाएगा, अन्यथा नहीं। विरोध करने में जिकरुल होदा, पंसस अब्दुल रहमान, उपमुखिया शाहिद परवेज, सैयद समीउल्लाह, मैना, जियाउल हक अंसारी, आफाजुद्दीन, मजहारुल हक, सेराजुद्दीन, जमाल ख़ान सहित अन्य शामिल थे।इस घटना पर बीडीओ सह आपूर्ति पदाधिकारी कपिल कुमार ने कहा है कि पूर्व विधायक मेनका सरदार के द्वारा हल्दीपोखर व जामदा के जविप्र दूकानदार के विरुद्ध मृतकों के अनाज उठाव की शिकायत उपायुक्त को सौंपे जाने के उपरांत एडीएम लॉ एंड ऑर्डर के निर्देश पर जविप्र दूकानदार असगर अली अंसारी व अनवर अली के क्षेत्र के राशन कार्ड का भौतिक सत्यापन किया जा रहा था। विरोध करना ग़लत है। मामले की सूचना वरीय पदाधिकारी को दी गई है।
ReplyForward

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!