आरएसएस और भाजपा की बदमाशी से गिरफ्तार हुए तबलीगी – फुरकान अंसारी

Share this:

जमशेदपुर, 29 सितंबर : आज रांची जेल में बंद तबलीगी जमात के 18 लोगों को जमानत पर छोड़ दिया गया। इनमें से 17 लोग विदेशी थे। जिनमें चीन के प्रतिनिधि भी शामिल थे। करीब 4 महीने पहले इन्हें गिरफ्तार कर जेल में बंद कर दिया गया था।

इन पर आरोप था कि ये विदेश से टूरिस्ट वीजा पर भारत में आए परंतु उन्होंने  नियमों का उल्लंघन करते हुए धार्मिक समारोह में भाग लिया। पुलिस को जांच में यह भी पता चला कि इन्होंने सरायकेला खरसावां जिला के कपाली के अनेक मस्जिदों में भी धार्मिक सम्मेलन किया तथा महीनों से ये झारखंड के मस्जिदों में घूम घूम कर धार्मिक प्रचार कर रहे थे। तबलीगी जमात के 18 लोगों को जमानत दिलाने में कांग्रेस के नेता और फुरकान अंसारी और विधायक में महत्वपूर्ण भूमिका अदा की।

विधायक ने मुख्यमंत्री से इस संबंध में बात की। जिसका नतीजा यह हुआ कि इन्हें जमानत मिल पाई। आज जेल से रिहा हुए तबलीगी जमात के 18 लोगों का स्वागत पूर्व सांसद फुरकान अंसारी ने किया। उन्होंने इन्हें गिरफ्तार कराने का दोषी केंद्र की एनडीए सरकार पर दिया। उन्होंने कहा कि आरएसएस और भाजपा की बदमाशी के कारण इन लोगों पर अत्याचार हुआ।उन्होंने यह भी कहा कि बीमारी किसी कौम, जाति, मजहब की नहीं होती है। बीमारी बीमारी है। लेकिन देश की हुकूमत को सिर्फ हिंदू, मुसलमान और जमात नजर आती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!