कोरोना मरीज के लिए रक्तदान हेतु सुनील आनंद सम्मानित

Share this:

जमशेदपुर, 6 सितंबर : कोविड-19 के विशेष पदाधिकारी डॉ विजय मोहन सिंह एवं टीम संघर्ष परिवार के अरिजीत सरकार के हाथों आनंद मार्ग के जमशेदपुर जनसंपर्क सचिव  सुनील आनंद को ‘आनंद मार्ग के युग नायक सेवा सम्मान’ से सम्मानित किया गया। कोरोना जैसी भीषण महामारी के संकट के बीच भी आनंद मार्ग की ओर से प्रत्येक महीने जमशेदपुर ब्लड बैंक में रक्तदान शिविर का आयोजित कर मानव सेवा के लिए उनके द्वारा अतुलनीय योगदान दिया गया। आनंद मार्ग यूनिवर्सल रिलीफ टीम ग्लोबल जमशेदपुर ने इस सम्मान के लिए जमशेदपुर ब्लड बैंक एवं टीम संघर्ष परिवार का आभार व्यक्त किया है। 

कौशिकी नृत्य दिवस पर वेब टेलीकास्ट पर नृत्य आयोजन
आनंद मार्ग प्रचारक संघ की ओर से वेब टेलीकास्ट (गूगल मीट) के द्वारा जमशेदपुर एवं आसपास के क्षेत्रों में आनंद मार्गी परिवारों के बच्चों एवं महिलाओं के बीच कौशिकी नृत्य का कार्यक्रम संपन्न हुआ। महिला तात्विक डॉक्टर आशु ने सभी महिलाओं एवं बच्चों को वेब टेलीकास्ट से कौशिकी नृत्य करवाया सभी ने अपने अपने घर में कौशिकी नृत्य किया।

आनंद मार्ग के प्रवर्तक श्री श्री आनंदमूर्ति जी ने आज ही के दिन 6 सितंबर 1978 को कौशिकी नृत्य का प्रवर्तन किया था।कौशिकी नृत्य की उपयोगिता पर प्रकाश डालते हुए महिला तात्विक डॉक्टर आशु ने कहा कि भगवान श्री श्री आनंदमूर्ति जी कौशिकी नृत्य के जन्मदाता हैं। यह नृत्य शारीरिक और मानसिक रोगों की औषधि है। विशेषकर महिला जनित रोगों के लिए रामबाण है। इस नृत्य के अभ्यास से 22 रोग दूर होते हैं। सिर से पैर तक अंग-प्रत्यंग और ग्रंथियों का व्यायाम होता है।

मनुष्य दीर्घायु होता है। यह नृत्य महिलाओं के सुप्रसव में सहायक है। मेरुदंड के लचीलेपन की रक्षा करता है। मेरुदंड, कंधे, कमर, हाथ और अन्य संधि स्थलों का वात रोग दूर होता है। मन की दृढ़ता और प्रखरता में वृद्धि होती है। लीवर की त्रुटियों को दूर करने में सहायता प्रदान करता है। 75 से 80 वर्ष की उम्र तक शरीर की कार्य दक्षता को बनाए रखता है ।
ReplyForward

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!