खोज खबर : रोजाना 100 ट्रक बालू चोरी की जा रही है तुरिया बेड़ा घाट से

Share this:

जमशेदपुर, 29 सितंबर : नेशनल ग्रीन ट्रिब्यून द्वारा नदी घाट से बालू नहीं उठाने के आदेश के बाद भी तुरिया बेड़ा छठ घाट से रोजाना 80 से 100 ट्रैक्टर और 407 ट्रक से अवैध तरीके से बालू की चोरी हो रही है। यह सिलसिला 2 महीने से जारी है। इस दौरान सिर्फ दो-तीन दिन बालू का उठाव रुका, जब नदी में पानी ज्यादा भर गया।

ग्रामीणों के मुताबिक वैसे तो करीब 1 साल से तुरिया बेड़ा घाट से बालू माफिया बालू की अवैध निकासी कर रहा है। कहते हैं कि बालू माफिया ने खनन विभाग के अधिकारियों और एमजीएम और उलीडीह थाना के अधिकारियों को सेट कर लिया है। जिससे रोजाना यहां से बेधड़क बालू निकाली जाती है। रोजाना सुबह 8:00 बजे से शाम 5 बजे तक यहां सैकड़ों कुली बालू निकालने का काम करते हैं तथा उसे वाहन में लदते हैं।

यहां कुछ नाविक भी हैं जो नदी की बीच धारा से बालू नाव में भरकर लाते हैं और घाट पर रखते हैं। सूत्रों के मुताबिक गांव के कुछ दबंग व्यक्ति बालू माफिया के साथ मिले हुए हैं तथा वे नदी घाट पर 24 घंटे सशस्त्र पहरा देकर अपने संरक्षण में बालू की चोरी करवाते हैं। चोरी की बालू का रास्ता पोद्दार ईट भट्टा से होकर दिल्ली पब्लिक स्कूल के सेकंड गेट से मानगो तक होता है। मानगो की संकोसाई रोड बालू चोरों के लिए सबसे सुरक्षित मानी जाती है।

‘आज़ाद न्यूज़’ टीम को बड़े पैमाने पर बालू की चोरी का पता चला तो हमारी खोजी टीम आज सुबह 11 बजे तुरिया बेड़ा घाट पर पहुंची और वहां का नजारा देखकर हमारी टीम दंग रह गई। वहां दो दर्जन ट्रक नदी में जगह जगह खड़े थे। जिन पर बालू की लदाई हो रही थी तथा पचासों ट्रक सड़क पर चल रहे थे। जो बालू को लोड करके वापस लौट रहे थे। बालू की इस भारी चोरी से जमशेदपुर की पुलिस और जिला खनन विभाग के अफसर अब तक आंखें क्यों मूंदे हुए हैं। यह गंभीर जांच का विषय है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!