परिवार के बिना लक्षण वाले युवा मरीजों के कारण मर रहे वृद्ध : केंद्रीय दल की रिपोर्ट

Share this:

जमशेदपुर, 11 सितंबर : कोविड-19 संक्रमण रोकथाम से संबंधित उपायों की समीक्षा हेतु दिनांक 7 सितंबर 2020 से 9 सितंबर 2020 तक केंद्रीय दल द्वारा भ्रमण किया गया। समीक्षा के उपरांत यह पाया गया कि पूर्वी सिंहभूम जिले में कोरोना वायरस संक्रमण से हो रही मृत्यु के अधिकांश मामले वायरस संक्रमित मरीज वृद्ध व्यक्ति या गम्भीर बीमारी से ग्रस्त व्यक्ति हैं।

सामान्यत: ऐसे व्यक्ति घर से बाहर नहीं जाते हैं, इनके घर वाले या इनसे मिलने वाले व्यक्ति जो एसिंप्टोमेटिक व्यक्ति हैं, उनसे संक्रमित हो रहे हैं। ऐसे में कोरोना संक्रमण की सार्थक रोकथाम हेतु कोविड हॉट स्पॉट, बफर जोन, कंटेनमेंट जोन, हाट बाजार, मॉल आदि भीड़-भाड़ वाले क्षेत्र में रह रहे या घूम रहे व्यक्ति का कोविड-19 टेस्ट आवश्यक हो गया है। 

उक्त के आलोक में जिला प्रशासन द्वारा आपदा प्रबंधन अधिनियम 2005 के तहत यह निर्णय लिया गया है कि उपरोक्त वर्णित स्थलों पर कोविड-19 के संक्रमण रोकथाम हेतु वृहत स्तर पर जांच की जाए।  इस कार्य में यदि कोई भी व्यक्ति बाधा पहुंचाता है या असहयोग करता है तो उनके विरुद्ध आपदा प्रबंधन अधिनियम, 2005 की धारा 51 एवं अन्य सुसंगत धारा के अंतर्गत कार्रवाई की जाएगी। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!