पुलिस के खिलाफ प्रेस से बोलने पर रोका

Share this:

जमशेदपुर, 19 सितंबर : कदमा थाना स्थित मरीन ड्राइव में स्क्रैप व्यापारी पर गोली चालन के मामले में कल कदमा पुलिस ने संदेह के आधार पर अविनाश उपाध्याय नामक युवक को थाना में पूछताछ के लिए बुलाया। अविनाश के साथ उनके पिता कमलेश उपाध्याय भी थाना पहुंचे। कमलेश उपाध्याय के मुताबिक थाना प्रभारी ने उनके पुत्र को सादे कागज में हस्ताक्षर करने को कहा। इनकार करने पर पुलिस ने उन दोनों की पिटाई की।

पिटाई का विरोध करने पर पुलिस ने दोनों पर सरकारी काम में बाधा डालने का मामला दर्ज कर उन्हें  आज जेल भेज दिया। एमजीएम अस्पताल परिसर में कमलेश उपाध्याय प्रेस को कदमा पुलिस के दुर्व्यवहार के बारे में जानकारी दे रहे थे तो पुलिसकर्मियों ने उन्हें प्रेस से बात नहीं करने दी तथा उन्हें खींचकर पुलिस वाहन में ले जाकर बैठा लिया। कमलेश बता रहे थे कि थाना प्रभारी ने एक पुराने मामले का बदला उनसे  आज लिया।

कदमा पुलिस का कहना है कि पूछताछ के दौरान पिता-पुत्र क्रोध में आ गए और उन्होंने पुलिस की कार्रवाई को रोक दिया और थाना में ही हंगामा करने लगे। इसके कारण उन्हें सरकारी काम में बाधा डालने के आरोप में जेल भेजा गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!