विधायक और मंत्री के पैरवी के बाद भी 6 घंटे तक डॉक्टर ने रोगी को नहीं देखा

Share this:

जमशेदपुर, 12 सितंबर : पोटका प्रखण्ड के जुड़ी गांव निवासी सुधाकर दास (68) को 8 सितंबर को प्रातः 4 बजे सांस लेने में दिक्कत होने हुई। तब उनके बेटे उनको टीएमच लेकर आये। जहाँ इमरजेंसी में उन्हें भर्ती कर लिया गया।

रात 12 बजे उन्हें बताया गया कि वे कोरोना पॉजिटिव हैंं, लेकिन टीएमच में बेड नहींं है। उन्हें दूसरे अस्पताल में जाने को कहा गया। तब सुधाकर दास के परिजन ने विधायक संजीव सरदार से गुहार लगाई। संजीव सरदार ने अविलंब बेहतर चिकित्सा सुविधा के लिए हेल्थ मिनिस्टर को ट्वीट किया। मंत्री ने विधायक के ट्वीट को तुरंत ही संज्ञान में लिया तथा उन्होंने डीसी को चिकित्सा सुविधा प्रदान करने के लिए ट्वीट किया।

डीसी ने कोरोना मरीज को एमजीएमसीएच में इलाज कराने का निर्देश दिया। रोगी को एमजीएमसीएच पहुंचाने के लिए टीएमएच के द्वारा एम्बुलेंस की सुविधा भी नहीं दी गई। रोगी को निजी व्यवस्था कर एमजीएम लाया गया। रात एक बजे एमजीएम में मरीज को भर्ती कराया गया। जहां उनको केवल ऑक्ससीजन लगाकर छोड़ दिया गया है। लगभग 6 घंटे तक एक भी चिकित्सक उनको देखने नहीं आये।जबकि मरीज को काफी दिक्कत महूसस हो रही थी। विदित हो कि मरीज अपने बेटे के साथ कदमा में रहते हैंं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!