गाँधी जयंती के अवसर पर देशव्यापी स्वच्छता साक्षरता अभियान ‘वाश’ की शुरुआत

Share this:

जमशेदपुर, 2 अक्तूबर : आज गाँधी जयंती के अवसर पर पूर्वी सिंहभूम जिला के उप विकास आयुक्त परमेश्वर भगत ने नाबार्ड द्वारा चलाए जा रहे स्वच्छता साक्षरता अभियान ‘वाश’ का उदघाटन किया। उप विकास आयुक्त ने नाबार्ड के अभियान की सराहना करते हुए ग्रामीणों को बताया कि स्वच्छता-स्वास्थ और समृद्धि एक दूसरे से एक कड़ी के रूप मे जुड़ी हुई है। इसलिए राष्ट्रपिता महात्मा गाँधी ने स्वतंत्रता आंदोलन के साथ साथ स्वछता अभियान से भी आम जनमानस को जोड़ने का काम किया था। उप विकास आयुक्त ने कहा कि वैश्विक महामारी कोविड -19 के इस आपदा काल ने स्वछता तथा साफ-सफाई के प्रति सतर्कता की प्रासंगिकता अभूतपूर्व रूप से कई गुना ज्यादा बढ़ गई है।

ज्ञात हो कि नाबार्ड 2 अक्तूबर 2020 से 26 जनवरी 2021 तक देश के 2000 गांवों में स्वच्छता-साक्षरता अभियान चलाएगा और इस अभियान का नाम WASH (वाश) रखा गया है ! डब्ल्यूए से वॉटर, एस से सेनिटेशन, एच से हाइजीन है। वाश अभियान के अंतर्गत पूर्वी सिंहभूम तथा सरायकेला-खरसावां जिला समेत झारखण्ड राज्य के कुल 100 गांवों में नाबार्ड जन-जागरुकता लाएगी।श्री सिद्धार्थ शंकर, डीडीएम नाबार्ड ने बताया कि स्वच्छ भारत अभियान के अंतर्गत शौचालय निर्माण हेतु भारत सरकार को अब तक 15,000 करोड़ रुपए  का ऋण नाबार्ड द्वारा स्वीकृत किया गया है। आज वक्त की जरूरत ओ.डी.एफ (ओपेन डेफेकेसन फ्री) – प्लस गतिविधि की अर्थात पानी कि उपलब्धता युक्त शौचालय, दो पिट युक्त शौचालय,  स्नानागार इत्यादि हो।

डीडीएम नाबार्ड ने बताया कि बांगुरदा में सांसद आदर्श ग्राम पेयजल परियोजना के क्रियान्वयन हेतु 3.52 करोड़ रुपए के ऋण की स्वीकृति झारखण्ड राज्य सरकार को वित्तीय वर्ष 2020-21 के दौरान की गई है। उप-विकास आयुक्त ने बताया कि आज इस बात की जरुरत है कि बैंक साफ-सफाई और स्वछता की मूलभूत जरुरत के प्रति संवेदनशीलता दिखाते हुए शौचालय के निर्माण, जीर्णोधार, पानी टंकी की व्यवस्था,  स्नानागार के निर्माण इत्यादि के लिए इच्छुक आवेदकों को व्यक्तिगत तथा स्वयं सहायता समूह, जेएलजी इत्यादि के माध्यम से ऋण प्रदान करें।

इस अवसर पर उल्लेखनीय सामाजिक योगदान के लिए निम्नांकित महिला व व्यक्ति समूहों को पुरस्कृत किया गया। श्रीमती सोमबनी मार्डी ग्राम धुसरा को जल संरक्षण के लिए, माँ लक्ष्मी महिला समूह,  बांगुरदा  को स्वच्छ भारत अभियान के तहत शौचालय निर्माण के लिए, श्रीमती तारा रानी मांझी एवं आनंदमोय महतो को कोविड -19  लॉकडाउन के दौरान किए गए उल्लेखनिए योगदान के लिए पुरस्कृत किया गया।

इस मौके पर ग्रामीणों के बीच मास्क का वितरण किया गया। इस मौके पर पेय जल विभाग के एग्जीक्यूटिव इंजीनियर जेसन होरो ने भी ग्रामीणों को सम्बोधित किया। इस कार्यक्रम की कार्यकारिणी संस्था टैगोर सोसाइटी फॉर रूरल डेवलपमेंट के अध्यक्ष  नन्दलाल बक्शी समेत अन्य लोग मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!