जमशेदपुर के साइबर अपराधियों ने 2 महीने में कमाए 2 करोड़ रु.

Share this:

जमशेदपुर, 30 नवंबर : जमशेदपुर के सिदगोड़ा, गोलमुरी, बिरसानगर, टुइलाडुंगरी इलाके में रहकर साइबर गिरोह चलाने वाले 5 अपराधी आज पुलिस के चंगुल में फंसे। जमशेदपुर के इस साइबर गिरोह के सरगना मोहम्मद आफताब और मोहम्मद आरिफ को पुलिस गिरफ्तार नहीं कर पाई है।

ये दोनों गोलमुरी के निवासी बताए जाते हैं।करीब 2 महीने पहले बनाए गए इस गिरोह ने ऑनलाइन पेमेंट के जरिए दर्जनों लोगों को चूना लगाया। इस तरह करीब दो करोड़ रुपए की कमाई की। गिरोह के लोग ऑनलाइन पेमेंट के नाम पर लोगों से रुपए मंगाते थे तथा उन्हें अपने विभिन्न अकाउंट में ट्रांसफर कर दिया करते थे। इस काम के लिए इन्होंने अनेक जगह के बैंकों में जाली अकाउंट खुलवा रखे थे।

इस गिरोह ने झारखंड के साथ ही देश के अन्य राज्यों में भी साइबर अपराध के जरिए बड़ी रकम की ठगी की। गिरफ्तार साइबर अपराधियों के नाम सिदगोड़ा पदमा रोड निवासी विकास कुमार तिवारी, नामदा बस्ती गुरुद्वारा रोड निवासी सविंदर सिंह, प्रकाश नगर बिरसानगर निवासी दिलप्रीत सिंह और जगजीत सिंह गिल, टुइलाडुंगरी गोलमुरी निवासी ऋषभ भारती बताए जाते हैं। इन सभी अपराधियों की उम्र 20 वर्ष से लेकर 26 वर्ष तक है।

इनके पास में पुलिस ने साइबर अपराध में उपयोग किए गए मोबाइल फोन, अनेक एटीएम कार्ड, बैंकों की पासबुक, चेक बुक, पैन कार्ड, आधार कार्ड वगैरह बरामद किए। मालूम हो झारखंड के डायरेक्टर जनरल ऑफ पुलिस के आदेश से साइबर अपराधियों के खिलाफ पूरे राज्य में विशेष अभियान चलाया जा रहा है। यह गिरफ्तारी इसी अभियान के तहत हुई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!