झारखंड के मुस्लिमों के हित से जुड़ी 15 मांगों का न्याय पत्र जारी

Share this:

जमशेदपुर, 18 दिसंबर : आमया की ओर से अंतराष्ट्रीय अल्पसंख्यक दिवस के अवसर गुरुवार को कडरू हज हाउस के समक्ष धार्मिक उत्पीड़न, भेदभाव, ऐतिहासिक धरोहर पर अवैध दावेदारी और असंवैधानिक कानूनों के खिलाफ न्याय प्रदर्शन किया गया।

मौके पर अध्यक्ष एस. अली ने मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन, संसदीय कार्य मंत्री आलमगीर आलम और अल्पसंख्यक कल्याण मंत्री चंपई सोरेन के नाम झारखंड के मुस्लिमों के हित से जुड़ी 15 सूत्री मांगों का न्याय पत्र जारी किया।

पत्र में मॉबलीचिंग में मृतक परिवार को न्याय व पुनर्वास के साथ सुप्रीम कोर्ट के निर्देश के अनुसार कानून बनाने, सोशल मीडिया पर धार्मिक टिप्पणी कर समुदाय विशेष को आहत करने वालों के खिलाफ कानून बनाने, आबादी के हिसाब से सरकारी व निजी नौकरियों में मुस्लिमों की भागीदारी देने, विश्वविद्यालय, जैक, आयोग, बोर्ड, निगम और दूसरे संस्थानों में मुसलमानों को भागीदारी देने, उर्दू शिक्षकों की बहाली में आरक्षित पदों को विलोपित कर पिछड़ा व सामान्य जाति की महिलाओं के लिए सुरक्षित करने समेत अन्य मांग की गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!