बेटी की लाश पर चोट के निशान देख कर पिता ने हत्या का केस किया

Share this:

जमशेदपुर, 20 दिसंबर : कपाली के निवासी सैफ अली तथा उसकी माता पर नाजिया बानो की हत्या का मामला मृतिका के पिता वसीम खान ने दर्ज कराया। नाजिया बानो का विवाह 14 सितंबर 2020 को सैफ अली के साथ हुआ था।

विवाह के तीसरे दिन नाजिया की सास ने फोन कर उसके पिता वसीम खान से कहा कि उसकी बेटे को बाइक चाहिए। वसीम खान ने फरवरी 2021 में पुरानी बाइक खरीद कर देने का वादा किया था। परंतु बार-बार उन्हें बाइक जल्दी दे देने का दबाव दिया जाता था। मृतिका के पिता वसीम खान ने बताया कि 4 दिन पहले सैफ अली की मां ने उनसे फोन पर कहा था कि अगर वे बाइक नहीं दे सकते तो एक साइकिल ही खरीद कर दे दें, उनके बेटे के काम में काफी तकलीफ हो रही है।

तब वसीम खान ने कहा कि उन्होंने बाइक देने का वादा किया है। साइकिल कहां से बीच में आ गई। वे फरवरी 2021 तक पुरानी बाइक खरीद कर सैफ अली को जरूर दे देंगे। इस बीच आज तड़के 3:26 बजे वसीम खान को उनकी बेटी के पति सैफ अली ने फोन किया कि नाजिया बानो की तबीयत काफी खराब है। वह बेहोश हो गई है और बिस्तर पर ही उसने शौच कर दिया है। इसके बाद नसीम खान फौरन नाजिया के ससुराल पहुंचे तथा उसे उठाकर इलाज के लिए महात्मा गांधी मेमोरियल मेडिकल कॉलेज अस्पताल ले गए। जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

वसीम खान ने बताया कि उनकी पुत्री नाजिया के शरीर में मारपीट के कई निशान थे तथा गले पर भी निशान था। इस आधार पर उन्होंने अपनी बेटी के शौहर एवं सास पर हत्या का मुकदमा दर्ज कराया। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने पर सच्चाई सामने आएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!