ऑटो एवं बस ड्राइवर के लिए ड्रेस कोड, नेम प्लेट व ऑटो के पीछे पूरी जानकारी लिखने का निर्णय

Share this:

जमशेदपुर, 28 जनवरी : पूर्वी सिंहभूम जिला के उपायुक्त सूरज कुमार की अध्यक्षता में जिला सड़क सुरक्षा समिति की बैठक की गई। जिसमें संबंधित पदाधिकारी एवं अन्य स्टेक होल्डर शामिल हुए। बैठक में उपायुक्त द्वारा वैसे ऑटो संचालक जिनका निबंधन किसी ऑटो एसोसिएशन से नहीं है उन्हें अनिवार्य रूप से निबंधित कराने का निर्देश दिया गया, अन्यथा जांच में पकड़े जाने पर कार्रवाई की बात कही गई।

साथ ही सभी निबंधित ऑटो में ड्राइवर के पीछे वाली सीट पर संपूर्ण पहचान यथा नाम, आधार नंबर, पता एवं मोबाइल नंबर प्रदर्शित करवाने का निर्णय लिया गया। निबंधित ऑटो चालकों के लिए ब्लू सफारी ड्रेस कोड एवं नेम प्लेट लगाने की भी बात कही गई। बस चालकों के लिए खाकी ड्रेस रखने का निर्णय लिया गया। उपायुक्त ने कहा कि रॉन्ग साइड में ड्राइविंग करने वालों के विरूद्ध कार्रवाई की जाएगी। 

उपायुक्त सह जिला दण्डाधिकारी द्वारा सभी स्पीड ब्रेकर को हाईलाइट करने का निर्देश दिया गया ताकि दुर्घटना में कमी लाई जा सके। रंबल स्ट्रीप (छोटा स्पीड ब्रेकर) के आगे एवं पीछे भी सफेद पेंट से मार्किंग करने का निर्देश दिया गया ताकि वाहन चालकों को ज्ञात हो सके कि आगे स्पीड ब्रेकर है।

जुस्को के प्रतिनिधि को मरीन ड्राइव में ‘यहां गाड़ी खड़ा करना मना है, ऐसा करते पाये जाने पर दण्डित किया जाएगा’ का साइनेज लगाने का निर्देश दिया गया। एनएच एवं एसएच स्थित पुल-पुलिया में पहुंच पथ पर साइनेज लगाने हेतु भी निदेशित किया गया। ताकि आगे पुल-पुलिया है इसकी जानकारी सही समय पर चालकों को मिल सके।  

बैठक में अनुमंडल पदाधिकारी धालभूम, अपर उपायुक्त, एडीएम लॉ एंड ऑर्डर, जिला परिवहन पदाधिकारी, ट्रैफिक डीएसपी, एनएचएआई व स्टेट हाईवे के प्रतिनिधि, सड़क सुरक्षा सेल (परिवहन कार्यालय) के प्रतिनिधि तथा अन्य लोग उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!