पद्मभूषण पाने के लिए खर्च किया लाखों रुपए

Share this:

एक व्यापारी सह समाज सेवक ने कुछ दशक पहले मुझसे व्यक्तिगत बातचीत में कहा था कि मैं 40 प्रतिशत चोर हूं और 60 प्रतिशत ईमानदार हूं।  वह कह रहा था कि मैं अनेक लोगों से बेहतर हूं। यानी वह सरकारी अनुदान में से 40 प्रतिशत ही चुराता था। फिर भी उसे पद्मभूषण पाने के लिए लाखों रुपए खर्च करने पड़े थे।

संभवतः उसे इस बात का अफसोस रहा होगा कि जिन्होंने 100 सरकारी पैसों को घिस 15 पैसे रह जाने दिया, उन्हें तो सबसे बड़े नागरिक सम्मान मिले।किंतु मुझे एक छोटे सम्मान यानी पद्म भूषण के लिए लाखों खर्च करने पड़े।
    –सुरेंद्र किशोर   26 जनवरी 2021

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!