स्कूल कॉलेज तंबाकू मुक्त बनाने के लिए रणनीति

Share this:

जमशेदपुर, 8 जनवरी :  जिले के सभी शिक्षण संस्थानों को तंबाकू मुक्त बनाने के उद्देश्य से सिविल सर्जन डॉ. आर.एन. झा की अध्यक्षता में कार्यशाला का आयोजन किया गया। जिले के सभी शिक्षण संस्थानों को “तंबाकू मुक्त शिक्षण संस्थान” घोषित करने को लेकर 9 बिंदुओं पर चर्चा की गई।

सिविल सर्जन ने कार्यशाला में भाग ले रहे प्रतिभागियों को इस कार्यक्रम को सफल बनाने हेतु लगन पूर्वक कार्य करने की सलााह दी। अपर मुख्य चिकित्सा पदाधिकारी डॉ. साहिर पाल ने प्रतिभागियों को वर्तमान की समस्याओं से अवगत कराते हुए इस मुहिम के सफलता हेतु प्रोत्साहित किया। जिला नोडल पदाधिकारी राष्ट्रीय तंबाकू नियंत्रण कार्यक्रम डॉ अरविंद कुमार लाल ने उपस्थित लोगों से कहा कि “तंबाकू मुक्त शिक्षण संस्थान” की ओर कदम बढ़ाने का अच्छा अवसर है।

उन्होंने कहा कि हम सभी मिलकर जिले भर के स्कूल जाने वाले टीन एजर को तंबाकू सेवन से होने वाले दुष्प्रभाव के प्रति जागरुक कर सकते हैं। प्रशिक्षक के रूप में राज्य परामर्शी राजीव कुमार ने तंबाकू मुक्त शिक्षण संस्थान से संबंधित 9 प्रकार के मापदंडों की विस्तृत चर्चाा की। साथ ही साथ उन्होंने तंबाकू के उपयोग को लेकर कहा कि युवाओं में तंबाकू का डिमांड कम करना होगा तभी इस कार्यक्रम को सफल बनाया जा सकता है।

वहीं दूसरे प्रशिक्षक डॉ दीपक कुमार गिरी ने तंबाकू सेवन से होने वाली शारीरिक बीमारियों से अवगत कराते हुए कहा कि तंबाकू सेवन से युवा तथा क्लास 9 से 12 तक की बच्चे में भी मानसिक विकास में दिक्कतें महसूस की जा रही हैं जो कि एक चिंता का विषय बना हुआ है। जिला परामर्शी सुश्री मौसमी चटर्जी के धन्यवाद ज्ञापन के साथ कार्यक्रम का समापन किया गया। कार्यक्रम को सफल बनाने में जिला मलेरिया पदाधिकारी डॉक्टर मीणा कलूंडिया, जिला कार्यक्रम प्रबंधक विनय कुमार, जिला लेखा प्रबंधक सुबोध कुमार चौधरी आदि मौजूद थे। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!