मजबूत खुफिया तंत्र से सरायकेला जिला पुलिस ने दो अंजान बलात्कारियों को पकड़ा

Share this:

जमशेदपुर, 8 फरवरी : सरायकेला-खरसावां पुलिस ने दो अज्ञात बलात्कारियों को गिरफ्तार कर काबिलेतारीफ काम किया है। इन बलात्कारियों ने अपना कोई सुराग नहीं छोड़ा था। न बलात्कार पीड़ित युवती का इनसे पुराना परिचय था। न घटनास्थल के आसपास कोई सीसीटीवी कैमरा लगा था। फिर भी सरायकेला-खरसावां जिला की पुलिस ने पीड़िता द्वारा बनवाए गए स्केच के आधार पर दोनों बलात्कारी युवकों को गिरफ्तार कर आज जेल भेज दियाा।

चौंकाने वाली बात यह है कि यह गिरफ्तारी पुलिस ने उस वक्त की जब दोनों बलात्कारी अपना रंग रूप बदल कर घूम रहे थे। मालूम हो पीड़िता द्वारा बनवाए गए स्केच के समाचार पत्रों में प्रकाशित होते ही दोनों बलात्कारियों ने अपना भेष बदल लिया था। जिससे उन्हें पहचानना कठिन हो गया था। फिर भी पुलिस के कुशल गुप्तचरों के कारण अपराधियों की गिरफ्तारी संभव हो पाई।

आज सरायकेला-खरसावां के पुलिस अधीक्षक मोहम्मद अर्शी ने पत्रकारों को जानकारी देते हुए कहा कि 11 जनवरी 2021 को दोपहर 1:30 बजे के समय पिंद्राबेड़ा के निकट सुनसान जंगल में एक युवती को बाइक सवार युवक अपहृत कर ले गए तथा उसके साथ बलात्कार कियाा। पुलिस अधीक्षक के आदेश से एक टीम का गठन किया गया जिसमें पारंपरिक तथा तकनीकी अनुसंधान किया। अज्ञात अभियुक्तों की पहचान के लिए पीड़िता द्वारा बताए गए हुलिया के स्केच बनाए  तथा उनसे मिलते-जलते करीब 100 लोगों से ज्यादा व्यक्तियों के फोटो पीड़िता को दिखाए गए।

घटनास्थल के आसपास के सभी गांव के मुखिया, ग्राम प्रधान, वार्ड सदस्य, पंचायत समिति सदस्य आदि से सहयोग लिया गया। नतीजतन 7 फरवरी को चीरुगोड़ा गांव में पुलिस ने छापामारी कर दोनों अप्राथमिकी अभियुक्तों को गिरफ्तार किया। दोनों ने अपना अपराध स्वीकार कर लिया। अभियुक्तों के पाास से घटना में प्रयोग की गई मोटरसाइकिल तथा मोबाइल भी बरामद किया गया।

गिरफ्तार अभियुक्तों के नाम बुद्धे कालिंदी उर्फ काला कालिंदी उम्र 35 वर्ष और दिनेश बेहरा उम्र 26 वर्ष  बताए जातेे हैंं। वे जमशेदपुर के सोपोडेरा फुटबॉल मैदान, परसुडीह के निवासी हैं। इनके पास से घटना में उपयोग की गई बिना नंबर प्लेट की पल्सर मोटरसाइकिल, माइक्रोमैक्स कीपैड वाले दो मोबाइल फोन, दो नंबर प्लेट जिनमें jh-05 सीडी 8420 नंबर लिखा था जप्त किए गए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!